देखिए आज की 100 बड़ी खबरें नॉनस्टॉप | #ATLivestream

देखिए आज की 100 बड़ी खबरें नॉनस्टॉप | #ATLivestream

           

https://www.facebook.com/aajtak/posts/999635877528215

श्री देवीपुराण के तीसरे स्कंद में प्रमाण है कि इस ब्रह्माण्ड के प्रारम्भ में तीनों देवताओं (श्री ब्रह्मा जी, श्री विष्णु जी तथा श्री शिव जी) का जब इनकी माता श्री दुर्गा जी ने विवाह किया, उस समय न कोई बाराती था, न डी.जे बजा था। श्री दुर्गा जी ने अपने पुत्रों(श्री ब्रह्मा जी, श्री विष्णु जी तथा श्री शिव जी) को तीनों लड़कियां देकर (सावित्री जी, लक्ष्मी जी, पार्वती जी) कहा कि ये तुम्हारी पत्नियां हैं। इनको ले जाओ और अपना-अपना घर बसाओ। तीनों अपनी-अपनी पत्नियों को लेकर अपने-अपने लोक में चले गए जिससे विश्व का विस्तार हुआ।
- जीने की राह (आध्यात्मिक पुस्तक)


+