AAP को असली खुशखबरी तो चुनाव जीतने के एक दिन बाद मिली

AAP ने नारा दिया- राजनीति करने नहीं, राजनीति बदलने आए हैं.

           

https://www.facebook.com/aajtak/posts/10159352688167580

अरविंद के नाम खुला पत्र,

Dear Kejriwal
Be happy.

स्पष्ट बहुमत की दूसरी बार सरकार बना रहो हो, क्योंकि सृष्टि की 3 शक्तियों (सात्विक, राजसी, तामसिक) में कोई न कोई शक्ति तो आपमें है। मगर :-

मत भूलना कि मोदीजी, योगीजी, अमित शाह तथा किशन रेड्डी इत्यादि कईयों में केवल और केवल सात्विक शक्ति ही है। वह बात अलग है कि, राक्षसी प्रवृतियां जब जनता तो चैन से नहीं रहने दें तो सुदर्शन चक्र चलाना ही पड़ता है।

मैंने एक video में देखा कि केजरी द्वारा पुलिस वर्दी में सिंघम बनकर भाजपा नेताओं पर प्रहार किया जा रहा है। "चार दिन की चाँदनी, फेर अंधेरी होय", को ध्यान में रखकर अपने समर्थकों को समझा दो कि अच्छे-बुरे प्रभाव द्वारा सत्तारूढ़ हो ही गए, तो सत्ता गवाँकर अमेठी से वायनाड जाने में ज्यादा समय नहीं लगता। लोकतंत्र का अभिप्राय ही है कि विपक्ष कायम रहे। अगर नहीं सुधरोगे तो मुख्यमंत्री की कुर्सी तो क्या, चपरासी पद की भी आयु नहीं बची।

क्या मोदीजी चाहते तो दिल्ली मुख्यमंत्री पद BJP के लिए मुश्किल होता? मगर मोदीजी के सामने दिल्ली विजय से महत्वपूर्ण भारत को China में कहर ढ़ाने वाले कोरोना तथा अमेरिका- ईरान में तनाव को खत्म करके सृष्टि की रक्षा करना बेहद जरूरी है।

बनिये का प्रभाव दिखाने से मैं खुद उसी समाज से हूँ, तो हरियाणा असर दिखाओगे तो मैं भी 1972 में हरियाणा शिक्षा विभाग द्वारा 10th उत्तीर्ण उपरांत हरियाणा शिक्षा विभाग में ही अध्यापक रह चुका। 1968 में हवेली में जन्म लेने की बोहरगत (धनाड्य) दिखाकर हनुमानजी का आशीर्वाद दिखाओगे तो मैंने भी 1968 में निजी (2% हिस्सेदारी) हवेली की ड्योढ़ी पर बैठकर ही हनुमान चालीसा कंठस्थ याद की थी। पूर्व सैनिक अन्ना हजारे का वरदहस्त प्राप्त कर रखा है तो मैं खुद पूर्व सैनिक हूँ।

मेरा आपसे कोई नीजि मनमुटाव नहीं। अगर है तो उस कांग्रेस तथा घटक दलों से, जिनके UPA शासनकाल में मेरी आतंकग्रस्त क्षेत्र में तैनाती दौरान मेरे मकान का ताला तोड़कर बेघर बनाया गया, जिससे पापी सिक्ख द्वारा साईकिल से हवा निकलवाने से मुझे 3 जगहों रहने के कारण 10 हजार भूगतने पड़ते हैं।

भाजपा के 80% सांसदों से भी मुझे खुंदक है कि मई 2019 से अब तक एक बार भी नतो वित्तमंत्री नांहि योगीजी से निवेदन किया कि मामला बबीना (झांसी) तथा पूर्व सैनिक संबंधी होने से तत्काल निपटारे स्वरूप Army Postal Service के 800 पूर्व सैनिकों को सेना की पेंशन लागू की जाए।

केजरीवाल जी, आप यातो बनिया प्रदर्शित मत करो, या सोनिया को अपने दोनों सदनों के सांसदों द्वारा समझाओ कि बिमल कुमार भी केजरी के समाज से है। हरियाणा निवासी प्रदर्शित तभी कर सकते हो, जब मुलायम को सांसदों के जरिए बताओगे कि पूर्व सैनिक भी हरियाणा संबंधित है। वर्ना चूंकि ड्रामेबाज तो हो ही, एक ड्रामा यह भी कर दो कि तुरंत अपने राज्यसभा के तीनों सांसदों से इस्तीफा दिलवाकर साबित कर दो देश के एक अकेले पूर्व बेघर सैनिक समर्थन में ऐसा किया। आपको दोहरा लाभ होगा कि 62 MLA's जीतने से 5 साल तक मनमर्जी राज्यसभा में सांसद बदल सकते हो। किसी को मंत्रिमंडल में शामिल के बहाने तो किसी को मुझे सेना की पेंशन लागू कराने के।


+