Delhi Violence: अमित शाह के साथ बैठक के बाद CM केजरीवाल बोले- मिलकर शांति बहाली की कोशिश करेंगे

#DelhiViolence: गृह मंत्री ने दिलाया भरोसा, पुलिस की नहीं होगी कमी

           

https://www.facebook.com/aajtak/posts/10159420275597580

आखिर आज दिल्ली वालों को पता चल गया है कि दिल्ली पुलिस कैसे किसके कहने पर काम करती है,,,,
जब तक केजरीवाल CM delhi नहीं चाहेगा दिल्ली पुलिस कही भी कार्यवाही नहीं कर सकती है,,,,
जब जब हिन्दुओ को परेशानी होगी मुसलमानों से तब तब कुछ भी शिफरिस नहीं करेगा CM
पर जैसे ही मुसलमानों को परेशानिया होंगी तुरंत सिफारिश कार्यवाई की करेगा CM,,,
देश द्रोही का केस कन्हैया कुमार पर चलना था पुलिस ने FIR दर्ज भी कर दिया,,,पर दिल्ली सरकार ने केस चलाने की अभी तक इजाजत नहीं दी है,,,
,ये है केजरीवाल की सरकार का दिल्ली में काम करने का तरीका,,,,


दैबिक जानकारी --
---*-मोतीपुर *बजार को--- फिलहाल* इस ओला *ब्रिस्टी से अलग रखा गया था.. *केवल बाजार को ओला ब्रिस्टी से अलग रखा गया बाकि मोतीपुर में भी ओला पड़े होंगे... अगले निर्णय तक खंड खंड में *अंतराल बाई अंतराल प्रकीर्ति आपदा आएंगे... इसे अन्धबिस्वाश ना समझे *यह सत्य हैं.. बिशेष परिस्तिथि में इसमें संशोधन किया जा सकता हैं... बाकि मौसम को नियत्रण में महादेव ने यमराज को प्रकीर्ति का संचालन दिए हैं... *इस कारण मानव को अपने कर्तव्य का पालन करना होगा नियम *कानून बिधि का पालन करना होगा.. सत्य और कर्तव्य पथ पर चले अच्छे अधिकारी, अच्छे पत्रकार, अच्छे आईपीएस, अच्छे समाजसेवी, अच्छे *मुख्यमंत्री, अच्छे उप मुख्यमंत्री, अच्छे डी एस पी , अच्छे थानाध्यछ, अच्छे पदाधिकारी, अच्छे नेता *अच्छे प्रधानमंत्री, सच्चे गृह मंत्री का सम्मान करे --उनके जनकल्याण में किए गये बेहतर कार्य पर अंगुली ना उठाये उनके किए कर्म को पड़ताल करे और अच्छाई को कुशलता को सराहना करे *ताकि समाज को बेहतर अच्छा बिकाशशील, भयमुक्त अपराधमुक्त नशामुक्त बनाये *जाने में उनको बल मिले और ओ कल्याणकारी कार्य को तेजी से कर सके...अच्छाई पर चलेंगे सत्यता को स्वीकारेंगे,अन्यथा प्रकीर्ति इनका अपमान *बर्दास्त नहीं करेगी और प्रकीर्ति इसका निर्णय करेगी जो काफी नुकशान दायी होगा, नियम कानून बिधि का पालन करेंगे कल्याणकारी कार्य में भागीदारी निभाएंगे.समाज को गैर कानूनी कार्य से मुक्त करेंगे अपने कर्तव्य का पालन करेंगे..... ओ आईपीएस जो *देवता तुल्य हैं जो शिव का अंश हैं उसका हम सदा सम्मान करेंगे उनके कल्याणकारी कार्य को हम सदा सराहेंगे उनको हम इज्जत देंगे उनको आगे बढ़ाएंगे ताकि ओ हर किसी का आबरू. जान माल बचाएंगे... यह संकल्प लेना हैं. . **देखिये हर जाती हर धर्म को एक समान जीने का हक हैं उनको कोई कस्ट ना हो इसका सदा ख्याल रखे.. ***जी धन्यवाद......


+