1 टिप्पणियाँ

पब्लिक अपना दिमाग सिर्फ तीन कृषि कानूनों तक सीमित ना रखे, खेल कहीं ज्यादा बड़ा है।

#बैक्टीरीया_और_हाइजीन के नाम पर FM Radio आदि के जरिये लगातार पब्लिक को डराने वाले #ऐड_कैम्पेन का मक़सद पब्लिक के दिमाग़ में #खुला_दूध, #खुला_तेल और तमाम #खुले_अनाज बिना पैकेट या डब्बा बन्द हम ख़रीदते हैं उनसे दूर करना है।

इसका सीधा असर ना सिर्फ़ दूध, तेल और खुले अनाज का व्यापार करने वालों पर पड़ेगा बल्कि साथ में लपेटे जायेंगे #छोटे_व्यापारी और #हलवाई भी।

प्रिज़र्वटिव डाल डब्बों में बन्द खाने वाली चीज़ें ना सिर्फ़ महँगी होंगी बल्कि इन्सानों की सेहत से खिलवाड़ भी होगा।

कानून ही ऐसे बना दिये जा रहे हैं की चुनिन्दा बड़े Corporate घरानों के सिवा दूसरे किसी व्यापारी के बस की बात ही नहीं रहेगी।
#किसान_देश_बचाने_निकले_हैं


Link: http://www.vin3.org/index.php?c=article&cod=208258&lang=IN#vin3Comment-927794
----------------------